नवीनतम जुआ तकनीक

नवीनतम जुआ तकनीक

time:2021-10-18 19:37:31 डॉ रेड्डीज लैब के शेयरों में क्‍यों निवेश की सलाह दे रहे हैं विश्लेषक? Views:4591

lovebet कोकेमुक्सिया नवीनतम जुआ तकनीक 188bet पुर्तगाल,ek Patti,lovebet 2 अप रणनीति,lovebet फ्री,भारत में lovebet समीक्षा,lovebetफ,बैकारेट 350 परफ्यूम,बड़ी संख्या का बैकरेट कानून,बेस्ट कैश गेम,बीएच स्पोर्ट्स शो,कैसिइनओ मुफ्त खेल,चैंपियंस लीग सट्टेबाजी,क्रिकेट 4k,क्रिकेट स्कोरिंग बुक पीडीएफ,एस्पोर्ट्स अर्थ,फुटबॉल 365,फुटबॉल विश्व कप चैंपियन,एच कैसीनो मिन्स्क,बिना हारे बैकारेट कैसे खेलें,क्या जंगल रम्मी नकली है,जंगल रम्मी यूट्यूब,लाइव कैसीनो खो गया और पाया गया,लॉटरी डीवी,लूडो मास्टर गेम,पोकर गवर्नर 3,ऑनलाइन गेम फ्री,ऑनलाइन रियल मनी गेमिंग साइट्स,पेटीएम फर्स्ट गेम्स जैकपॉट स्पिन,शुरुआती के लिए पोकर प्रश्नोत्तरी,रूले एल्गोरिथ्म सहायक,रम्मी 2 खिलाड़ी नियम,रम्मीकल्चर केवाईसी,स्लॉट टोस्टर,स्पोर्ट्स जी के प्रश्न,स्टैंड-अलोन गेम बैकारेट,सबसे अच्छा कैसीनो ऑनलाइन,यूईएफए चैंपियंस लीग सॉकर 10 सर्विस सपोर्ट,ऑनलाइन दांव लगाने के लिए कौन सा बेहतर है,21 बजे wikipedia,ऑनलाइन पैसे बनाएं mp3,क्रिकेट क्षेत्ररक्षण नियम,गोवा शहर,तीन पत्ती वाला गेम पैसे वाला,बरसता है,भाग्यशाली 7,स्टेटस ऐटिटूड, .डॉ रेड्डीज लैब के शेयरों में क्‍यों निवेश की सलाह दे रहे हैं विश्लेषक?

42 में से 36 विश्लेषक इस शेयर में खरीद की सलाह दे रहे हैं. वहीं, 5 ने इसे होल्‍ड करने की राय दी है.
डॉ रेड्डीज लैब (डीआरएल) ने वित्त वर्ष 2020-21 की तीसरी तिमाही में ठीक ठाक नतीजे दर्ज किए हैं. सालाना आधार पर इसके कुल रेवेन्‍यू में 12 फीसदी का इजाफा हुआ है. इस दौरान घरेलू रेवेन्‍यू में 26 फीसदी, अमेरिकी रेवेन्‍यू में 9 फीसदी और यूरोपीय रेवेन्‍यू में 34 फीसदी की बढ़ोतरी हुई. हालांकि, ये आंकड़े बाजार की उम्मीदों से कम थे. हाल में इस शेयर की कीमतों में गिरावट आने का यही कारण था. विश्लेषक कहते हैं कि कीमत में यह कमी इस शेयर में एंट्री का मौका देती है.

छोटी अवधि में ऐसी कई बातें हैं जो डॉ रेड्डीज के शेयरों को बल दे सकती हैं. इसके चलते भी विश्लेषकों की इस शेयर में दिलचस्पी बढ़ी है. कंपनी ने रूस की कोविड वैक्सीन स्पुतनिक का लाइसेंस प्राप्त किया है. यह मंजूरी का इंतजार कर रही है. नियामक संबंधी प्रकिया पूरी होने में समय लगता है. लेकिन, विश्लेषकों को इसके सकारात्मक नतीजे मिलने की उम्‍मीद है. कारण है कि इसी टेक्नोलॉजी पर आधारित दूसरी वैक्‍सीनों ने क्‍लीनिकल टेस्‍ट में अच्‍छे नतीजे दिखाए हैं.

इसे भी पढ़ें : मुझे रिटायरमेंट के लिए 21 साल में 1 करोड़ रुपये जुटाना है, कैसे प्‍लान बनाऊं?

एक बार मंजूरी मिलने के बाद कंपनी की योजना भारत के साथ अन्‍य देशों में इसकी मार्केटिंग करने की है. यह काम सरकार और प्राइवेट वैक्‍सीन प्रोग्राम के तहत किया जाएगा. रूस और कॉमनवेल्थ देशों में बाजार के समीकरण भारत जैसे हैं. यहां ब्रांडेड और ओटीसी दवाओं पर फोकस बढ़ा है. इस दिशा में पहले कदम बढ़ा देने से डॉ रेड्डीज को पहले ही फायदा मिला है. स्पुतनिक के निर्यात से कंपनी को और फायदा हो सकता है.

अमेरिकी बाजार में कंपनी कई प्रोडक्‍ट लॉन्‍च करने वाली है. छोटी अवधि में यह भी इसके शेयरों में हवा देगा. डॉ रेड्डीज लैब के कुल मार्केट में अमेरिका की हिस्सेदारी करीब 37 फीसदी है.

डीआरएल की प्रोडक्‍ट पाइपलाइन काफी मजबूत है. नए लॉन्‍च होने वाले ज्यादातर प्रोडक्‍ट जटिल और खास प्रोडक्‍ट सेगमेंट के हैं. डॉ रेड्डीज लैब ने अमेरिका में अक्टूबर 2020 में कुवान का जेनरिक वर्जन लॉन्‍च किया था. यह इसका पाउडर वर्जन जल्‍द लॉन्‍च करने वाली है. चूंकि, पाउडर वर्जन की मार्केट हिस्सेदारी 70 फीसदी है. लिहाजा, आने वाली तिमाहियों में डीआरएल को इस प्रोडक्‍ट से ज्यादा रेवेन्यू पाने में मदद मिल सकती है.

इसे भी पढ़ें : कैसा है एलएंडटी टैक्‍स एडवांटेज म्‍यूचुअल फंड का 5 साल का रिपोर्ट कार्ड?

एपीआई की किल्लत के चलते विलंब के बावजूद डीआरएल अपनी जेनेरिक दवा वासेपा को जल्‍द लॉन्‍च करने के लिए प्रतिबद्ध है. 2021-22 के दौरान वह धीरे-धीरे इसका उत्पादन बढ़ाएगी.

अपने साथ की प्रतिद्वंद्वी कंपनियों के मुकाबले डॉ रेड्डीज लैब का वैल्यूएशन कम है. साथ ही बैलेंसशीट भी मजबूत है. कुछ दवाओं को लेकर इसका दबदबा रहा है. यह फ्री कैश फ्लो (एफसीएफ) भी जनरेट कर रही है. 42 में से 36 विश्लेषक इस शेयर में खरीद की सलाह दे रहे हैं. वहीं, 5 ने इसे होल्‍ड करने की राय दी है. 1 का कहना है कि इसे बेचना चाहिए.

master9

पैसे कमाने, बचाने और बढ़ाने के साथ निवेश के मौकों के बारे में जानकारी पाने के लिए हमारे फेसबुक पेज पर जाएं. फेसबुक पेज पर जाने के लिए यहां क्‍ल‍िक करें

टॉपिक

डॉ रेड्डीज लैबरेवेन्‍यूनिवेश की सलाहतीसरी तिमाही के नतीजेडीआरएलदवाविश्‍लेषक

ETPrime stories of the day

PrimeTalk invite | Blurring the lines of retail.
Modern retail

PrimeTalk invite | Blurring the lines of retail.

2 mins read
Inside Amrish Rau’s experiments at Pine Labs: card swipe as a gateway to everything that’s SaaS
Fintech

Inside Amrish Rau’s experiments at Pine Labs: card swipe as a gateway to everything that’s SaaS

10 mins read
Auto sales may plunge 30% this festive season. But don’t blindly point a finger at tepid demand.
Auto

Auto sales may plunge 30% this festive season. But don’t blindly point a finger at tepid demand.

12 mins read

साल में कम से कम एक बार निवेश की समीक्षा जरूर करें और उसे दोबारा बैलेंस करें.अगर आप फुलटाइम घर से काम कर रहे हैं और आपकी कंपनी टेलीफोन, इंटरनेट, प्रिंटिंग और स्‍टेशनरी जैसे कुछ खर्चों को रीइंबर्स कर रही है तो आपको इन खर्चों पर टैक्‍स देने की जरूरत नहीं है.नेशनल रिटेल पॉलिसी से 4 साल में पैदा होंगी 30 लाख नौकरियां : सीआईआई

साल में कम से कम एक निवेश की समीक्षा जरूर करें और दोबारा संतुलन बनाएं. अपने लिए पर्याप्‍त लाइफ इंश्‍योरेंस खरीदें.सुकन्या समृद्धि स्‍कीम में बेटी के जन्‍म के बाद उसके नाम पर खाता खुलवाया जा सकता है. उसके 10 साल का होने तक ऐसा किया जा सकता है.नेशनल रिटेल पॉलिसी से 4 साल में पैदा होंगी 30 लाख नौकरियां : सीआईआई

कोरोना की महामारी के चलते कई लोगों की नौकरी छूट गई है. कई लोगों की सैलरी घट गई है. कइयों के रोजगार ठप हो गए हैं. नौकरियों के मौकों में बड़ी कमी आई है. नई जॉब के विकल्‍प बेहद सीमित हैं. ऐसे में यह समय अपने कम्‍फर्ट जोन से निकलकर घर में कमाई के रास्‍ते खोजने का है. इसकी शुरुआत आप खुद से यह पूछ कर सकते हैं कि आप क्‍या कर सकते हैं? कैसे कर सकते हैं? कहां कर सकते हैं? कितना कमा सकते हैं? हम आपको घर बैठे कमाई के कुछ विकल्प बता रहे हैं.रोजगार संबंधी सेवाएं देने वाली वेबसाइट नौकरी डॉट कॉम के 'हायरिंग आउटलुक सर्वे' के अनुसार, नियोक्ता नए साल को लेकर आशावान लग रहे हैं.फ्रेशर्स के लिए मौका, कंपनियां बड़े पैमाने पर कर रही हैं भर्ती

पूरा पाठ विस्तारित करें
संबंधित लेख
ऑनलाइन रियल मनी गेम नेटवर्क

बेटी की शिक्षा और शादी के लिए माता-पिता पैसा जोड़ पाएं, इस मकसद के साथ यह स्‍कीम लॉन्‍च की गई थी.

स्लॉट का हिंदी अर्थ

महामारी से पहले की तुलना में मजदूरी 450-500 रुपये से बढ़कर 550-600 रुपये प्रति दिन हो गई है. वहीं, मजदूरों की उपलब्‍धता 70-75 फीसदी घटी है.

रम्मी छवि

समय गुजरने के साथ उन्‍हें इक्विटी में निवेश कम कर देना चाहिए. इसके बजाय धीरे-धीरे डेट फंडों की ओर रुख करना चाहिए.

पोकरसेंट

एनपीएस अकाउंट खोलते वक्त सब्सक्राइबर्स को विकल्प दिया जाता है. वे चाहें तो विभिन्न एसेट क्लास में खुद पैसा लगाएं. या फिर ऑटो च्‍वाइस ऑप्शन चुनें.

लियोवेगास एक्सपेक्ट

इंडेक्‍स फंडों की तरह ईटीएफ अमूमन किसी खास मार्केट इंडेक्स को ट्रैक करते हैं. इनका प्रदर्शन उस इंडेक्‍स जैसा होता है.

संबंधित जानकारी
गरम जानकारी